You are here:

मनकामेश्वर उपवन घाट पर फूलों से सजाकर इको फ्रेंडली कंडों से बनाई गई होलिका

UP

लखनऊ - मनकामेश्वर उपवन घाट की छटा शुक्रवार को बहुत अनोखी दिखी। यहां पर फूलों से सजाकर इको फ्रेंडली कंडों की पांच फुट की होलिका बनाई गई है। हिन्दू-मुस्लिम लड़कियों ने सामाजिक मुद्दों व साम्प्रदायिक सौहार्द के प्रति अपनी सहभागिता दिखाई। किसी ने होलिका स्थल पर प्रभु शिव का त्रिशूल बनाया तो किसी ने फूलों व लकड़ी के रंगीन बुरादे से शंख, मोर, कमल बनाकर सज्जा की। 
सबा, सूफिया व तृप्ति ने बनाया त्रिशूल 
पावर एंजल बनकर शरारती तत्वों से डटकर मुकाबला करने वाली सबा, सूफिया, तृप्ति व विदिशा ने मिलकर होलिका स्थल पर प्रभु शिव का त्रिशूल फूलों, रंगों व लकड़ी के रंगीन बुरादे से खूबसूरत रंगोली बनाकर सभी का ध्यान अपनी रंगोली की ओर खींचा। इसी तरह सामाजिक मुद्दे से जुड़ी सेव द चाइल्ड गर्ल रंगोली बनाकर मनोरमा व वैष्णवी ने लोगों को गर्भ में बच्चियों की हत्या को रोकने की अपील की। राखी ने शुभ-लाभ, वर्किंग वूमेन नम्रता मिश्रा और महबूब अली ने फूलों की सुंदर रंगोली बनाई। प्रिया मिश्रा, वंदना, राधा, रूपा, गोलू पांडेय, विक्की, राजकुमार समेत अन्य बच्चों ने भी रंगोली व सजावट में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। 
बच्चों ने लिया प्रकृति संरक्षण का संकल्प
घाट पर बच्चों को मनकामेश्वर मठ मंदिर की महंत देव्या गिरि ने प्रकृति को बचाने का संकल्प दिलाया। सभी बच्चों ने संकल्प लिया कि आज फाल्गुन शुक्ल पक्ष त्रयोदशी पर हम सभी लोग आदिगंगा मां गोमती को साक्षी मानकर संयुक्त रूप से पर्यावरण, पेड़-पौधौं के संरक्षण, नदियों की स्वच्छता एवं शुचिता स्थापित करने के साथ अपने अंग-अंग में देवों का वास करा रही। जीवन मूल्यों की संरक्षिका "गौ माता" की रक्षा का संकल्प लेते हैं। साथ ही यह प्रतिज्ञा करते हैं कि हम अपने जीवन में एक पौधा जरूर लगाकर पर्यावरण को निरंतर बनाये रखेंगे। इस हेतु बाबा मनकामेश्वर व आदिगंगा मां गोमती से कामना करते हैं कि वे हमारे संकल्प की रक्षा करें। 
इस मौके पर महंत देव्यागिरि ने कहा कि होलिका दहन धार्मिक है  इसमें टायर, कूड़ा आदि नहीं डालना चाहिए। होलिका दहन के लिए कंडों का अधिक से अधिक प्रयोग करें, न कि पेड़ों को काटकर जलायें। इससे प्रकृति को नुकसान पहुंचता है। कंडें जलाने से गौ पालकों को आय वृद्धि होती है। साथ ही पर्यावरण संरक्षण होगा। इस मौके पर अवनीश त्रिवेदी, उपमा, पवन तलवार, अशोक दुबे, संजय, अश्विनी, प्रेम, रोहित खेत्रपाल, कृष्णा समेत अन्य लोगों व सेवादारों का विशेष सहयोग रहा। 
भारत माता के चित्र के साथ ले सकेंगे सेल्फी 
महंत देव्या गिरि ने बताया कि होलिका दहन स्थल के पास मनकामेश्वर उपवन घाट पर एक सेल्फी प्वाइंट बनाया गया है। जहां लोग खड़े होकर अपनी सेल्फी होलिका दहन के साथ ले सकते हैं। 

11 मार्च को जन कल्याणकारी सरकार के लिए होगी प्रभात आरती

मनकामेश्वर मठ-मंदिर के विशेष कार्याधिकारी जगदीश गुप्त "अग्रहरि" के अनुसार 11 मार्च को सुबह उत्तर प्रदेश के राजनैतिक कल्याण के लिए डालीगंज के मनकामेश्वर मठ-मंदिर में महंत देव्या गिरि की अगुवाई में सुबह पांच बजे विशेष आरती की जाएगी। दरअसल 11 मार्च को ही प्रदेश के विधान सभा चुनाव के रिजल्ट घोषित किए जाएंगे।

12 मार्च को कथक के रंग में महकेगी फूलों की होली

शंखनाद और घंटे घड़ियाल के बीच महंत देव्या गिरि की अगुवाई में 11 पुरोहितों द्वारा गोमती की महा आरती मनकामेश्वर घाट उपवन में की जाएगी। सांस्कृतिक कार्यक्रम में आदित्य अग्रहरि का दल शिव तांडव करेगा। इसके साथ ही मशीन से फूलों की बरसात के बीच कथक के कलाकार होली का रंगारंग कार्यक्रम पेश करेंगे। फूलों की होली अन्य आकर्षण बनेगी। 

related post