You are here:

पाकिस्तान के चार टुकड़े ही अंतिम फैसला, जेल जाने में अली बीबी का हो पहला नंबर- सुब्रमण्यम स्वामी

National

14 सितंबर, शनिवार।आज पत्रकारों को संबोधित करते हुए वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी कई मुद्दों पर खुलकर बात की।कांग्रेस के भ्रष्टाचार के मुद्दे पर जब उनसे पूछा गया कि किसे जेल पहले जाना चाहिए तो उन्होंने कहा कि आपने सुना होगा अलीबाबा और चालीस चोर मैं कहता हूं कि अलीबीबी और चालीस चोर जिसमे अलीबीबी सोनिया गांधी हैं, उन्हें जेल जाने के क्रम में पहला नंबर देना चाहिए। राममंदिर के मुद्दे पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि 15 नवम्बर तक राम मंदिर पर फैसला आ जाएगा।मुझे अंदर की बात पता नही है मगर ये मेरा विश्वास है कि जल्द ही राममंदिर पर काम शुरू होगा।इसपर काम पिछले साल ही शुरू हो जाना चाहिए था लेकिन संचालको के एक साथ काम शुरू करने की बात से यह नही हो पाया लेकिन इस साल हर हाल में राम मंदिर निर्माण शुरू करेंगे।उन्होंने साफ कहा ये क्रम यहीं रुकने वाला नही है इसके बाद मथुरा और काशी को भी मुक्त कराना है। भारत और पाकिस्तान के बीच चल रही तल्खी पर उन्होंने कहा- पाकिस्तान सुधरने वाला नहीं है, अच्छा है कि उसे उसी के मुद्दों में उलझा के रखा जाए।बलूचिस्तान के मानव अधिकार पर एक संस्था खोलनी चाहिए 'बलूची ह्यूमन राइट्स सेंटर' जैसे अमेरिका ने खोल कर रखा है।फिर सेना की मदद से पाकिस्तान को चार टुकड़ो में बांट देना चाहिए पाकिस्तान का यही अंतिम इलाज है।भारत को पाकिस्तान से संबंधित सभी दस्तावेज इकठ्ठा करके पूरी रणनीति बनाके यूनाइटेड नेशन में दे देने चाहिए। आर्थिक मंदी पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि मंदी आई नही मगर उसकी ओर बढ़ रहे हैं।उन्होंने कहा अभी जो फाइनेंस मिनिस्ट्री में है उन्हें रास्ता नही पता हैअर्थशास्त्र का जो ज्ञान होना चाहिए वह नही है।ऋषि मुनियों ने कहा है जब तक सुनने वालों की आस्था न हो तब तक कुछ नही सिखाना चाहिए।गीता पढ़ने के लिए श्रद्धा की जरूरत है। उन्होंने कहा यूनिफॉर्म सिविल कोर्ट धारा 44 हमारे संविधान में है और संविधान में आदेश है कि सरकार को इसे कायम करना चाहिए।सुप्रीम कोर्ट ने जो कहा उससे हमे बल मिलेगा।जब हम ट्रिपल तलाक बिल लागू कर पाए तो यूनिफार्म सिविल कोर्ट भी दूर नहीं है।

related post